रमन सिंह को ईडी, सीबीआई पर इतना भरोसा है तो नान और चिटफंड घोटाले की इनसे जांच की मांग क्यों नहीं करते?

सुशील आनंद शुक्ला
सुशील आनंद शुक्ला अध्यक्ष कांग्रेस संचार विभाग छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी

 

रायपुर/

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की पत्रकार वार्ता का जवाब देते हुये प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि डॉ. रमन सिंह को ईडी और सीबीआई के कार्यवाही पर इतना ही भरोसा है तो छत्तीसगढ़ के सबसे बड़ा घोटाला नान घोटाला जो उनके सरकार के समय हुआ था जिसमें तत्कालीन सीएम मैडम सहित तमाम रमन के करीबी लोग संदेह में है, इस घोटाले की ईडी से जांच का समर्थन क्यों नहीं करते है? यदि रमन में साहस है तो उनके सरकार के दौरान हुये चिटफंड घोटाला की ईडी से जांच की मांग क्यों नही करते? डॉ. रमन सिंह सिर्फ राजनीति करने के लिये ईडी और सीबीआई की बात करते है। भारतीय जनता पार्टी छत्तीसगढ़ में सीधे तौर पर कांग्रेस का मुकाबला नहीं कर पा रही है।

रमन सिंह जैसे नेता जिनकी विश्वसनीयता जनता में खत्म हो चुकी है तो वे ईडी और सीबीआई की बातें करके छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार को बदनाम करने की कोशिश में लगे है। रमन सिंह के समय भ्रष्टाचार का आलम यह था कि रमन के पैतृक निवास वाले अभिषाक सिंह को भारत में पैसा रखने की जगह नहीं मिली, उन्होंने वर्जिन आईलैंड में खाता खोला था पनामा पेपर में नाम आया था। रमन सिंह अपने पते वाले अभिषाक सिंह जिसका नाम भी उनके पुत्र अभिषेक सिंह से हूबहू मिल रहा उसकी ईडी जांच की मांग क्यों नहीं करते?

रमन सिंह पांच उपचुनाव में हार के बाद भी राज्य की जनता का मूड नहीं समझ पा रहे है यह उनका दुर्भाग्य है। जनता 2018 में तीन चौथाई बहुमत से उनको नकारने के बाद लगातार उनके नेतृत्व और भाजपा को नकार रही है। रमन समझ ले जनता उनके 15 साल के कुशासन से कांग्रेस के चार साल के सुशासन की तुलना कर रही है इसीलिये भाजपा चुनाव दर चुनाव हार रही है।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भानुप्रतापपुर के चुनाव परिणाम को कांग्रेस की षडयंत्र बताकर डॉ. रमन सिंह ने भानुप्रतापपुर की जनता का अपमान किया है। भानुप्रतापपुर की जनता ने वहां के भारतीय जनता पार्टी के बलात्कार प्रत्याशी के खिलाफ मतदान किया है। जैसे चार उपचुनाव में डॉ. रमन सिंह ने जनादेश को स्वीकार करते हुये हार मानी थी, वैसे ही भानुप्रतापपुर के जनादेश को स्वीकार करना चाहिये। भानुप्रतापपुर की जनता ने कांग्रेस के चार साल के विकास कार्यो पर मुहर लगायी है। भानुप्रतापपुर की जनता ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की विश्वसनीयता पर मुहर लगायी है। भानुप्रतापुर की जनता ने बस्तर में 15 साल तक रमन राज में शोषण चल रहा था उनके खिलाफ मतदान किया। भानुप्रतापपुर की जनता ने डॉ. रमन सिंह द्वारा मुख्यमंत्री के संबंध में कहे गये अपशब्दों के खिलाफ मतदान किया है। डॉ. रमन सिंह को सच्चाई से मुंह नही मोड़ना चाहिये।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here